papa jaldi aaja na-पापा जल्दी आजा ना

papa jaldi aaja na-पापा जल्दी आजा ना

पिता रोटी है पिता कपड़ा है पिता मकान है,पिता ननेसे परिन्दे का बड़ा आसमान है,पिता है तो हर घर मे हर पल राग है,पिता से माँ चूड़ी है बिन्दी है सुहाग है,पिता है तो बच्चों के सारे सपने है,पिता है तो बाज़ार में सारे खिलोने अपने है,सुबह सवेरे घर से निकल जाते है,मेरे पापा दाना …

papa jaldi aaja na-पापा जल्दी आजा ना Read More »