Search Results for: रानी सती दादी भजन

mujhe itna sa de do vardhan teri chokhat par nikale mere praan maa

मुझे इतना सा देदो वरदान माँ,तेरी चोकाथ पे निकले मेरे प्राण माँ, अंत समय जब आये मेरा मैया तू मेरे पास हो,मेरे सिर पे हाथ हो तेरा निकले मेरी साँस हो,मुझे इतना सा देदो वरदान माँ…….. तू ही दुर्गा तू ही काली तेरे रूप हज़ार माँ,लाल चुनरिया औड के बेठी ओ सिंह पे अशवार माँ,मुझे …

mujhe itna sa de do vardhan teri chokhat par nikale mere praan maa Read More »

tane sohani sohani sajawa maa

तने सोनी सोनी सजावा माँ,एहे लायक महने करदे माँ तने चुनरी रोज उडावा माँ, नित ताजे ताजे फुला को गजरा में थाने पहनावा,नित नई राचानी मेहन्दी लाया थारे हाथ मंडावा माँ,एहे लायक महने करदे ………… सोहने को छतर रोज नेयो मैया ताहरी खातर लाया आवा,हे मेहर करो जो मैया तो कंगना रोज पहनावा माँ,एहे लायक …

tane sohani sohani sajawa maa Read More »

dadi ji tharo jhunjhunu darbaar bhagto ki aah har gm gunje thari jai jai kaar

दादी जी थारो झुंझनू दरबार,भगतो की आह हर गम गूंजे थारी जय जय कार,दादी जी थारो झुंझनू दरबार, बड़े बड़े यहाँ सेठ है आते,हाथ जोड़ तेरे शीश झुकाते,अप्रम पार तेरी माया है हर कोई करे पुकार,दादी जी थारो झुंझनू दरबार, जो भी तेरे दर पे आया,कर दी है अंचल की छाया,आशीर्वाद जिसे मिल जाता खुश …

dadi ji tharo jhunjhunu darbaar bhagto ki aah har gm gunje thari jai jai kaar Read More »

ek baat maa aajao phir aake chali jana

एक बार माँ आजाओ फिर आके चली जाना,हमे दर्श दिखा जाओ दिखला के चली जाना तुम को मेरे गीतों का संगीत भुलाये माँ,कुछ मेरी भी सुन जाओ कुछ अपनी सुना जाना,एक बार माँ आजाओ फिर आके चली जाना क्या मेरे तड़पने का एहसास नहीं तुम को,किस बात रूठी हो इतना तो बता जाना,एक बार माँ …

ek baat maa aajao phir aake chali jana Read More »

hum hath utha kar kehte hai hum ho gaye jhunjhan vali ke

हम हाथ उठा कर कहते है हम हो गए झुँझन वाली के, तेरे चलते शान और शौख़त है मेरा सब कुछ तेरी बदौलत है,हम शीश झुका कर कहते है,हम हो गए झुँझन वाली के,हम हाथ उठा कर कहते है…. किस्मत से मुझे दरबार मिला जो भुला नहीं वो प्यार मिला,बहते हुये आंसू कहते है हम …

hum hath utha kar kehte hai hum ho gaye jhunjhan vali ke Read More »

meri jiske bharose chalti jeewan naiyan

मेरी जिसके भरोसे चलती जीवन नैयाकोई और नहीं वो झुँझन वाली मैया,जिसने थामी पग पग मेरी बहियाँ,वो दादी मियांमेरी जिसके भरोसे चलती जीवन नैया तकलीफ के तूफानों में डोली थी जीवन नाइयाँ,जिसने आकर के थामा वो थी रानी सती मैया,मुझे पार लगाए बन कर के खेवइयाँ,मेरी जिसके भरोसे चलती जीवन नैया चाहे जो भी हो …

meri jiske bharose chalti jeewan naiyan Read More »