dove ik duje de dil vich rehan aa

दोवे इक दू्जे दे दिल विच रहने आ,मैं ते मेरी माँ
असी विछोड़ा एक दूजे दा सहने ना,मैं ते मेरी माँ

माँ रात रात भर जाग के दोवे गला दिल दिया करदे है
एक दूजे दियां गल्ला सुनके असी हुनगारा भरदे हां
जदों कदे वी असी इकठे बहने आ
मैं ते मेरी माँ…….

साचा सुचा नाता साडा सरे जग तो न्यारा माँ
मेनू लगे माँ प्यारी ते माँ नु है मैं प्यारा माँ
एक दूजे बिन आसी सा ना लेने हा
मैं ते मेरी माँ …..

दुनिया ताने मारदी है मैं दर तेरे ते आनी हां
ओहना नु की पता दाती तेरे दर्शन पानी है
ओ चंचल माँ नु नाल लेके मैं जनि आ
मैं ते मेरे माँ…

Leave a Comment