सुन ले रे भोले ये बात हमारी, भोले भंग पियोगे या दम लगाओगे,
भोले भंग पियोगे या दम लगाओगे, भोले भंग पियोगे या दम लगाओगे,

भोले के माथे पे चंदा विराजे,
भोले की जटों में गंगा विराजे,
हाथ डमरू साजे रे,
भंग पियो रे,

भोले के गल में नाग विराजे,
भोले के कानो में कुंडल है साजे,
तन मृगशाला साजी रे,
भंग पियो रे,

भोले के संग में गौरा विराजे,
भोले की गोदी में गणपति साजे,
नंदी चरनी बैठा रे,
भंग पियो रे,

Leave a Reply