teri mahima hai jag se nirali o maiya teri jai howe

तेरी महिमा है जग से निराली ओ मईया तेरी जय हॉवे,
ओ मईया तेरी जय होवे ओ मईया तेरी जय हॉवे,
तेरे प्यार की दुनिया दीवानी ओ मईया तेरी जय हॉवे,

सारा जहां है जिसकी शरण में नमन है उस माँ के चरनन में,
चैन मिलता है तेरे दर्श में,ओ मईया तेरी जय हॉवे,

जो भी तेरे दर पर आये उसके सब दुखड़े मिट जाए,
तुतो ममता लुटाने वाली ओ मईया तेरी जय हॉवे,

जब जब जिसने तुझको पुकारा तूने दिया है बन के सहारा,
सब की बिगड़ी बनाने वाली ओ मईया तेरी जय हॉवे,

Leave a Comment