माता शेरवालडये तेरे चरना विच आन ख्लो गई,
तेरी मैं हो गई वाह भी वाह मैं सेवक तेरी हो गई,
चल भगता चल भगता शेरावाली दे द्वारे ते मुरादा मिल दियां ने,

नंगे नंगे पैरी मइया अकबर आया सी,
सोने दा दर माँ दे छतर चढ़ाया सी,
नाम दी जोगन होके तेरे चरना विच आन ख्लो गई,
तेरी मैं हो गई वाह भी वाह मैं सेवक तेरी हो गई,
चल भगता चल भगता शेरावाली दे द्वारे ते मुरादा मिल दियां ने,

कटरे शहर विच माँ तेरा डेरा है,
जम्मू भाव दे विच दाती तेरा बसेरा है,
नाम दी जोगन हो हो तेरे चरना विच ना खलो गई,
वाह भी वाह मैं सेवक तेरी हो गई,
चल भगता चल भगता शेरावाली दे द्वारे ते मुरादा मिल दियां ने,

Leave a Reply