sohna jogi aaya hai dekho maa ratno de vehde

सोहना जोगी आया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,
आके अलख जगाया है देखो माँ रत्नो दे वेखदे,
सोहना जोगी आया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,

शीश झुकाये इस योगी के सूरत कितनी भोली,
गले में जचती सिंगी सोनी कंधे लटके झोली,
तन पे भस्म रमाया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,
सोहना जोगी आया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,

इक हाथ में चिमटा सोहे दूजे हाथ में वैरागी,
इतनी छोटी उम्र में बालक बन गया क्यों त्यागी,
सब का मन भरमाया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,
सोहना जोगी आया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,

जूनागढ़ गुजरात से आया ये जोगी मतवाला,
माँ लक्ष्मी का प्यारा कहता कर्मा रोपड़ वाला,
ये भोले की माया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,
सोहना जोगी आया है देखो माँ रत्नो दे वेहड़े,

Leave a Comment