श्याम सलोने हम भक्तों से करते कितना प्यार,
हमे इक बार बतादे मेरे सरकार बतादे,

हम ने तो सब कुछ अरपन किया है,
चौकठ पे तेरी समपर्ण किया है,
श्याम तुम्हे भी हम दीनो की कितनी है दरकार,
हमे इक बार बतादे मेरे सरकार बतादे,

आँखे बाबा हमारी दर्शन को तरसे,
तेरी जुदाई में ये रह रह के बरसे,
श्याम तुम्हे भी रहता होगा भक्तो का इंतज़ार,
हमे इक बार बतादे मेरे सरकार बतादे,

हर्ष बना है बाबा तेरा दीवाना,
क्या तू भी चाहे कह दे कैसा छिपाना,
श्याम कही न हो यह हमारा इक तरफा ही प्यार,
हमे इक बार बतादे मेरे सरकार बतादे,

Leave a Reply