श्याम अपने दीवाने पर एक कर्म कमा देना,
जिस दिन मैं तुझे भूलू दुनिया से उठा लेना,

जरा हु तेरी चौकठ पे पड़ा हु मैं,
कभी नजर पड़े तेरी कदमो से लगा लेना,
श्याम अपने दीवाने पर एक कर्म कमा देना,

चाहता हु मगर मेरी चाहत भी तो ऐसी हो,
कुछ दिल में दर्द देना कुछ दवा भी तू देना,
श्याम अपने दीवाने पर एक कर्म कमा देना,

सपने में अगर मुझमे अभिमान की वू आये,
तुझे कसम है जीतू की मेरा कंठ दबा देना,
श्याम अपने दीवाने पर एक कर्म कमा देना,

गुरुदास हु मैं तेरा मुझे दास ही रहने दे,
श्याम अपने दीवानो में मेरा नाम लिखा देना,
श्याम अपने दीवाने पर एक कर्म कमा देना,

Leave a Reply