खुशिया मनाओ मंगल गाओ स्वागत में तुम फूल बिछाओ,
श्याम आ गया रे मेरा श्याम आ गया ,

गंगा जल ला कर के भगतो इनके चरण पखारो
सिंगासन बैठाओ इनको प्यारे भजन सुनाओ
चन्दन केसर तिलक लगाओ बनडा सा बाबा को बनाओ,
चवर धूलाओ मंगल गाओ स्वागत में तुम फूल बिछाओ
श्याम आ गया रे मेरा श्याम आ गया ,

चंदा सा चमके है मुखड़ा शोबा अति निराली,
मोर मुकट कानो में कुंडल लट ये घुंगर वाली,
रुझ रुझ कर इनको जिमाओ श्याम पन्हा कर पान खिलाओ
चरण दबाओ मंगल गाओ स्वागत में तुम फूल बिछाओ
श्याम आ गया रे मेरा श्याम आ गया ,

आकर जाएगा मेरा बाबा याद न इनकी जाए
प्रेम भाव् से छवि निहारो नैनो में बस जाए,
मिल कर निरमल श्याम रिजाये देखो कसर कोई रह न जाए,
लाड लड़ाओ मंगल गाओ स्वागत में तुम फूल बिछाओ
श्याम आ गया रे मेरा श्याम आ गया ,

खाटू श्याम भजन