शिव पार्वती के लाल गजानन सफल करो मेरा जीवन,
मेरा तू ही सहारा गजानन,
मैं आया तेरी शरण,
शिव पार्वती के लाल गजानन सफल करो मेरा जीवन,

मैं ना समज अज्ञानी हु कही भटक न जाऊ रहो में ,
तुम भगयेविद्याता हो सबके मैं भी हु तुम्हरे भगतो में,
मुझे राह दिखाओ ग़ज़ानन ,
दिन रात करू तेरा सुमिरन,
शिव पार्वती के लाल गजानन सफल करो मेरा जीवन,

तेरे पास कई सुख सादन है मैं सुख से फिर वंचित हु,
तुम हो मंगल के दाता फिर मैं क्यों दुःख से पीड़ित हु,
मेरे दुखड़े हरो गजानन,
चरणों में करू तेरे वंदन
शिव पार्वती के लाल गजानन सफल करो मेरा जीवन,

मेरा जीवन भरा संघर्षो से कही संकट में न पढ़ जाऊ,
तू आकर थाम ले ब्याह मेरी कही चलते हुए न गिर जाऊ,
मेरे कष्ट मिटाओ गजानन विनती करे दास पवन,
शिव पार्वती के लाल गजानन सफल करो मेरा जीवन,

शिव पार्वती के लाल गजानन

Leave a Reply