sanwariya ke sewak hai hum shyam naam mastane

सांवरियां के सेवक है हम श्याम नाम मस्ताने हम है श्याम दीवाने,
श्याम सहारा भक्तो का कोई माने या ना माने,हम है श्याम दीवाने,

हाथ पकड़ कर भक्तो के ये साथ साथ ही चलता है,
हारे का है ये साथी संवारा सारा ज़माना कहता है,
अपने सच्चे प्रेमी को मेरा सांवरिया पहचाने,
हम है श्याम दीवाने……

हम भगतो का रोम रोम बस श्याम श्याम ही बोले,
श्याम नजर आता है हमको जब भी पलके खोले,.
हम पर चढ़ी है श्याम खुमारी ये दुनिया क्या जाने,
हम है श्याम दीवाने….

तू चाहे जिस हाल में रखे हम को फ़िक्र नहीं,
तेरे रहते हम नहीं डरते हम पे कोई असर नहीं,
तेरे भरोसे सौरव मधुकर सोये खूटी ताने,
हम है श्याम दीवाने,

Leave a Comment