sab masle ho gaye hal mere lad jad da jogi da fadeya hai

सब मसले हो गये हल मेरे लड़ जद दा जोगी दा फड़ेया है,
इंज चरनी लाया दाते ने मेनू रंग खुशियाँ दा चद्देया है

जींद मांगती जन्मा जन्मा दी दर दर तो मंगदी फिरदी सी,
तेथो जो मंगिया मैनु सब मिलिया एहो वेख ज़माना सड़ेया है,
लड़ जद दा जोगी दा फड़ेया है……….

जो हाल मेरे ते हसदे ने हस लेन मना नु खुश कर के,
इस चन्द्रे जग दे बोला नु मैं विच सीने दे जड़िया है,
सब मसले हो गये हल मेरे लड़ जद दा जोगी दा फड़ेया है,

जिस पास निर्मल आज देखे ओह्दी रेहमत दे सिर नावे ने,
विक्की ओट जोगी दी नु लेके संजीव दुखा नाल लड़ैया है,
सब मसले हो गये हल मेरे लड़ जद दा जोगी दा फड़ेया है,

Leave a Comment