रिश्ता इक बना ले प्यारे खाटू वाले श्याम से,
मस्ती में गुजरे गा जीवन तेरा बड़ा आराम से,

जिसने जिसने रिश्ता बनाया उसके ठाठ निराले है,
श्याम प्रभु बन जाते उनके पग पग पे रखवाले है,
रिश्ता इक बना ले प्यारे खाटू वाले श्याम से,

दुःख में ना घबराना प्यारे बस इनका सुमिरन करना,
दुःख को ये सुख में बदलेगा धरीज थोड़ा सा धरना,
रिश्ता इक बना ले प्यारे खाटू वाले श्याम से,

श्याम कहे कोई न करता जितना किया श्याम ने,
हर मुश्किल में हाथ बड़ा के आ जाता है सामने,
रिश्ता इक बना ले प्यारे खाटू वाले श्याम से,

Leave a Reply