rehmta teriyan ne chandi maa

माँ तू सब ते रेहमता करदी है,
सबना दे दुखड़े हरदी है,
तू किता है उपकार मियां आज खुशियां पाइयाँ फेरियां ने,
रेहमता तेरियां ने चंडी माँ…..

ओहनू दुनियां दे सुख मिल जांदे जेहड़ा दर तेरे ते आ जांदा,
एह किरपा तेरी चंडी माँ मुहो माँगियां मुरादा पा जांदा,
मैं भी दर तेरे ते आया माँ रीजा पूरियां कीतियां मेरियाँ ने,
रेहमता तेरियां ने चंडी माँ…..
.
तू दाता वंडन वाली माँ जिहने जो मंगया सब पा दिता,
मेरा सब कुछ तू ही चंडी माँ मैनु कखो लख बना दिता.
मैं सब कुछ दर तो पाया माँ मैं अर्जियां कीतियां जेहड़िया ने,
रेहमता तेरियां ने चंडी माँ……

लख वार तेरा शुक्र करा मैनु चरना नाल लगाया है,
तू आपने लाल जगदीश दा माँ इस जग विच मान वडाया है,
मेनू भी तेरे गुण गाउँदा माँ तेरे न दियां मला फेरियां ने,
रेहमता तेरियां ने चंडी माँ

Leave a Comment