माँ तू सबते रेहमता करदी है,
सब न दे दुखड़े हरदी है,
तू किता है उपकार मइयां आज खुशियां पाइया फेरियां ने,
रेहमता तेरिया ने रेहमता तेरिया ने

ओहनू दुनिया दे सुख मिल जांदे जेहड़ा दर तेरे ते आ जंदा,
एह किरपा तेरी चंडी माँ मुहो माँगियां मुरादा पा जांदा,
मैं भी दर ते आया माँ माँ रीजा कितिया पुरिया ने,
रेहमता तेरिया ने रेहमता तेरिया ने

तू दाता वंडन वाली माँ जिहने जो मंगिया सब पा दिता,
मेरा सब कुछ तू ही चंडी माँ मैनु कखो लख बना दिता,
मैं सब कुछ दर तो पाया माँ मैं अर्जियां कितिया जेहड़िया ने,
रेहमता तेरिया ने रेहमता तेरिया ने

लख बार तेरा शूकर करा मैनु चरना नाल लगाया है,
तू अपने लाल जगदीश दा माँ इस जग विच मान वधाया है,
मनु भी तेरे गुण गाउँदा माँ तेरे नाम दी माला फेरिया ने
रेहमता तेरिया ने रेहमता तेरिया ने

Leave a Reply