paake gl vich chuniyan aaj main nachan maiya de vehde

पल्ला मैं मैया दा फड़्या मैनु रंग मस्ती दा चड्या,
घुंगरू पैरा दे विच बन के आज मैं लेने ने गेडे,
पाके गल विच चुनियाँ आज मैं नचना मैया दे वेहड़े,

हाथ मेहँदी नल रंगा के गुने भोली माँ दे गा के,
लोकि रंग मस्ती दा जानन वेख के हसदे ने जेहड़े,
पाके गल विच चुनियाँ आज मैं नचना मैया दे वेहड़े,

मन विच माँ दी ज्योत जगओनी किकली कंजका दे नाल पौनी,
मस्ती विच कमली होना आज कोई आयो न नेड़े ,
पाके गल विच चुनियाँ आज मैं नचना मैया दे वेहड़े,

माँ मैं रजा तेरी विच राजी लोकि केहन ड्रामे वाजी,
एहनु लिखे कटानी वाला पार मेरे करदे वेहड़े,
पाके गल विच चुनियाँ आज मैं नचना मैया दे वेहड़े,

Leave a Comment