o maiya tere bhawan garba khele gaye hum

ओ मैया तेरे भवन गरबा खेले गए हम,
झूमे गे जायेगे हम दर पे आएंगे हम,
तन मन भी तुझपे वार दू हे माता तेरे लिए,
चरणों में जान निशार दू हे माता तेरे लिए

दर तेरे आये तुझको बुलाये,
गरबा खेले तेरे गुण गाये,
आंबे रानी,
चारो दिशाओ में गूंजे जैकारा है,
शेरोवाली मैया तेरी महिमा अपार है,
झरने भी मैया तेरे चरण पखारे,
पुरवाइयाँ पवन तेरा आंगन गुहारे,
सूरज की पहली किरण करे तेरे दर्शन,
आये हम तेरी शरण होके तुझमे मगन,
तन मन भी तुझपे वार दू,
हे माता तेरे लिए

माँ आंबे रानी जग कल्याणी,
तेरी महिमा ना जाए बखानी,
जोर से बोलो जय माता दी सारे बोलो जय माता दी,
फूल और कलियों से मंदिर सजाया,
दर्शन को आंबे देखो जग सारा आया,
लाल चुनरियाँ लाये तुझको चढ़ाने,
खेल खेल गरबा आये तुझको मनाने,
आज धरती गगन सब तुझमे मगन,
आके तेरी शरण काम करके चरण,
तन मन भी तुजमे वार तू,
हे माता तेरे लिए

Leave a Comment