नहीं होगा तेरा दीदार तो मैं लौट जाऊंगा,
मगर ये याद रखना सांवरे मैं फिर से आऊंगा,

सताले तू मगर ये न संजना हार जाउगा,
हमेशा की तरह यु ही सरे बाजार आऊंगा,
नहीं होगा तेरा दीदार …

जुबा से श्याम जय श्री श्याम की मैं धुन लगाउ गा,
नहीं मिलता है तू मुझसे येही सबको बताऊ गा,
नहीं होगा तेरा दीदार …

ना मैं रोउ गा अपने अनसुइयो को पीता जाउगा,
कन्हियाँ दिल दिया तुझको तो मरके भी निभा हु गा,
नहीं होगा तेरा दीदार ……..

अगर पागल हुआ तो नाम तेरा लिख के जाउगा,
तेरा दीवाना लेहरी नाम से पहचाना जाउगा,
नहीं होगा तेरा दीदार

Leave a Reply