nachan tu damru bja de bholiyan lami baah karke

मस्त मलंगा शिव मस्ती च आजा,
अखियां निमानियाँ नु दर्श दिखा जा,
हाल दिल वाला दसना है ता करके,
नचना तू डमरू वजा दे भोलियाँ लमी बांह करके,

मसा मसा मिलियाँ एह वेला नहीं सी मिलदा,
करदे नहीं पूरा आज चा साढ़े दिल दा,
हामी भरदे तू मस्ती दी छा करके,
नचना तू डमरू वजा दे भोलियाँ लमी बांह करके,

डम डम डमरू भोले तेरा वज्दा नचने नु चित करदा है सारे जग दा,
ताहियो नच पाइयाँ हां करके,
असि नचना तू डमरू वजा दे भोलियाँ लमी बांह करके,

नरेश तेरे तो जावे भोलेया वे सद के,
हो जाना आज कमले नि आज नच नच के,
आवे शेहरिये रमन दी बांह फड़ के,
नचना तू डमरू वजा दे भोलियाँ लमी बांह करके,

शिव भजन