muktsar hai ye meri kahani

मुक्तसर है ये मेरी कहानी,
साई बाबा की हुई मैं तो दीवानी ,

उस का सजदा है मेरा जीवन,
उसका मुखड़ा मेरा दर्पण,
वो है दाता तो मैं भिखारन,
वो है पूजा तो मैं पुजारन,
मुक्तसर है ये मेरी कहानी,

मेरे जीवन का तू खवइयन,
डूभ जाए न मेरी नैया,
पाप की पूरी हो तबीरे,
पढ़ ले साई मेरी तहरीरे,
मुक्तसर है ये मेरी कहानी,

क्या है इस दिल में जानता है तू,
अल्लाह मालिक कहे तो आल्हा हु,
क्या है इस दिल में जानता है तू,
सब की पहचान तू बताता है,
हर किसी को गले लगाता है,
मुक्तसर है ये मेरी कहानी,

साईं भजन