मुझको कोयल बना दे श्याम तेरी बगियन की,
चेहकु उड़ती फिरू मैं श्याम तेरी गलियां में,
मुझको कोयल बना दे श्याम तेरी बगियन की,

छोड़ के आया मैं सारा ज़माना,
अपने चरणों में देदो ठिकाना,
रो रो सुख गई है आंसू मेरी अखियन की,
चेहकु उड़ती फिरू मैं श्याम तेरी गलियां में,
मुझको कोयल बना दे श्याम तेरी बगियन की,

तारा है सब को मुझको भी तारो,
कोयल बनाके श्याम मुझको स्वारो,
अर्जी सुन ले न श्याम मेरे मन चितवन की,
चेहकु उड़ती फिरू मैं श्याम तेरी गलियां में,
मुझको कोयल बना दे श्याम तेरी बगियन की,

एह मेरे मालिक एह मेरे स्वामी,
मांगू सलामत तेरी गुलामी,
नैया पार लगा दे श्याम मेरे जीवन की,
चेहकु उड़ती फिरू मैं श्याम तेरी गलियां में,
मुझको कोयल बना दे श्याम तेरी बगियन की,

One thought on “mujhko koyal bna de shyam teri bagiyan ki

Leave a Reply