मुझे इतना सा देदो वरदान माँ,
तेरी चोकाथ पे निकले मेरे प्राण माँ,

अंत समय जब आये मेरा मैया तू मेरे पास हो,
मेरे सिर पे हाथ हो तेरा निकले मेरी साँस हो,
मुझे इतना सा देदो वरदान माँ……..

तू ही दुर्गा तू ही काली तेरे रूप हज़ार माँ,
लाल चुनरिया औड के बेठी ओ सिंह पे अशवार माँ,
मुझे इतना सा देदो वरदान माँ…………

मांग रहा हु तुमसे मैया इतनी सांसे देना तू,
इस दुनिया से जाते जाते एक भजन सुन लेना तू ,
मुझे इतना सा देदो वरदान माँ…………

मैं बोलू गा मियां मियाँ बेटा बेटा कहना तू,
बनवारी आखरी दम तक मेरे सामने रहना तू,
मुझे इतना सा देदो वरदान माँ…………..

रानी सती दादी भजन