meri preet lagi hai tilkaina vale de naal

मेरी प्रीत लगी है तिलकां वाले दे नाल,
सूरत वेख प्यारी मैनु चढ़ गई नाम खुमारी अपने गुरा तो मैं बलिहारी,
मेरी प्रीत लगी है तिलकां वाले दे नाल

पूजिया ने जिह्ना एह्दे दर दिया पोडियां,
ओहना नु ता द्वितीय ने लाला दियां जोड़ियां,
करदे जो अरजोई उसदी मन्नत पूरी होइ मेरे गुरा जेहा न कोई,
मेरी प्रीत लगी है तिलकां वाले दे नाल

क़स्बा ध्यान पुर बड़ा भागा वाला है,
ऊंचे ढीले वालेया दा रुतबा निराला है,
ऐसा गुरा दा डेरा जिथे सब नु मिले वसेरा,
बड़ा दयालु सतगुरु मेरा
मेरी प्रीत लगी है तिलकां वाले दे नाल

कई तरसेम जाहे डुबदे भी तारे ने,
काइयाँ दे बिगड़े मुकदर सवार ने
धीरज जाहे ने चारे बाहो फड़ के पार उतारे अपने सतगुरु तो मैं वारे,
मेरी प्रीत लगी है तिलकां वाले दे नाल

Leave a Comment