मेरी मैया की पायल सुनार झड़ दे,
मैं तो पहनाऊ गी माँ के पैरो में,

माथे पे बिंदियां लाल चुनरियाँ,
हाथो में कंगना छनके मुरलिया,
बस इतना जरा सा उपकार कर दे,
मैं तो पहनाऊ गी माँ के पैरो में,

भा गई मैया की मोहनी मूरतियाँ,
चाँद सी चमके माँ की सुरतियाँ,
मेरी मियां के बिशुए सुनार झड़ दे,
श्री सरवन पे मैया उपकार कर दे,
मैं तो पहनाऊ गी माँ के पैरो में,

Leave a Reply