मेरे राम जी से कहियो मेरी राम – राम ||
हे राम भक्त हनुमान मुझ पर कृपा करो ||

लड्डुओं का तुझे भोग लगाऊ , गुड और चना चढाऊ ||
नारियल फल और फूल भी लाऊ , और सिन्दूर लगाऊ ||
दुख भजन कृपा निधान , मुझ पर कृपा करो _ _ _ |२|

अब तो दर्श दिखा जाऔ , आ जाऔ हनुमत प्पारे ||
लाज राखो इस भक्त की , माँ अजंनी के राज दुलारे ||
मेरा जग में रखना मान , मुझ पर कृपा करो _ _ _ |२|

मेंहन्दीपुर बाला जी मैं , हू शरण तुम्हारी आया |२|
सालासर वाले बाबा न , जानू तेरी माया ||
मैं न जानू गुणगान , मुझ पर कृपा करो _ _ _ |२|

हनुमान भजन