मीरा वांगु अंखिया चो नीर वगदा ऐ श्यामा वे,
वसिया गोकुल साडा दिल नही लगदा श्यामा,

वगदी रावी श्यामा मैं रोड़ा चौखी श्यामा,
प्रीत लगनी सोखी निभोनी औखी वे श्यामा

वगदी रावी श्यामा मैं रोड़ा काने वे श्यामा,
दरस दिखदे लोक मरदे ताने ने श्यामा

मैं ताने सह ना सका,
लाम्बे ले न सका,
सारा जग छोड़ा पर तेरा साथ ना छोड़ा वे श्यामा,
मीरा वांगु अखियाँ चो नीर वगदा श्यामा

Leave a Reply