आओ काज बनाओ ऋ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
सिध को सीधी पली मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
विघन हरो जी सब गजानाथ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,

लम्बोदर हर लो हर वाधा,
शुभ शुभ करिये शुभ पति,मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
विघन हरो जी सब गजानाथ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,

आधी शक्ति के तुम हो जाए ,
पिता है देवा भिप्ति मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
विघन हरो जी सब गजानाथ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,

दोष विनाशक मंगल कारी,
रिद्धि सिद्धि के ओ पति मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
विघन हरो जी सब गजानाथ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,

देवा मोदक भोग लगाओ कार्य पूर्ण हो दो गति,
मंगल मूर्ति मेरे गणपति,
विघन हरो जी सब गजानाथ मंगल मूर्ति मेरे गणपति,

Leave a Reply