कौन आ गया नि आज मइयां दा सुनेहा ले के,
कौन आ गया नि आज कौन आ गया,
नि अज मइयां दा सुनेहा ले के कौन आ गया,

नीले नीले अम्बरा ते बदला दा शोर ऐ.
काली घटा छाई पैला पांदा पया मोर एह,
नि हसो नि खेलो कंजको सहेलियों नि कौन आ गया,
नि अज मइयां दा सुनेहा ले के कौन आ गया,

उचे उचे मंदिरा ते काहदी रुशनाई ऐ,
चेत दे महीने चल मइयां रानी आई ऐ,
नि दसो मंदिरा च जोता नु कौन जगा गया,
नि अज मइयां दा सुनेहा ले के कौन आ गया,

सवान सलोनी रुत भगता नाल हसदी,
मइयां दा सुनेहा ले के वार वार दसदी,
नि अज पीपला ते पिंगा नु कौन पा गया नि,
नि अज मइयां दा सुनेहा ले के कौन आ गया,

अमन रंगीले झंडे भवना ते झुल्दे,
खड्कन तलिया ते रंग पये ने धुलदे,
नि अज भगता दे दिला उते कौन छा गया,
नि अज मइयां दा सुनेहा ले के कौन आ गया,

Leave a Reply