maa tere aaye navraate tere ghar ghar hoye jagraate

माँ तेरे आये नवरात्रे तेरे घर घर होये जगराते,
गली गली माँ चौंकिया हुन्दियां हुन्दे ने जगराते,
माँ तेरे आये नवरात्रे ……

खेतरी तेरी बीज के दाती सारे सगण मनाउंदे,
लाल रंग की सोनी चुनी नाले छतर चढ़ाउंदे,
ज्योत के रूप में तेरा दर्शन,
सारे करने आउंदे,
माँ तेरे आये नवरात्रे

रल मिल सारे तेरे दर ये चल के आउंदे,
सचियाँ ज्योता वाली तेरी सच्ची ज्योत जगाउंदे,
जिसनु दाती दर ते भूलोंदी दौड़े दौड़े आनदे ,
माँ तेरे आये नवरात्रे……

नच्दे तपदे भगत प्यारे जय कारे माँ लॉनदे,
मस्ती दे विच झूम झूम के रल मिल भंगड़े पाउंदे,
बिन मंगे सब नु माँ दिन्दी जो भी दर ते आउंदे,
माँ तेरे आये नवरात्रे

Leave a Comment