lockdowan hta do bhole ji

सावन में कावड लाऊगा लॉकडाउन हटा दो भोले जी
सावन में कावड लाऊगा

मन मेरे में उठे माया जब जब यु सावन है आया,
हरिद्वार की नगरी आऊंगा मेरी बात मान लो भोले जी
सावन में कावड लाऊगा

रिम झिम रिम झिम बरसे बदरियाँ
पी के कावड पी के कावडिया
भोले मस्ती में रम जाऊँगा तेरी अजब निराली माया जी
सावन में कावड लाऊगा

नील कंठ की कठनी चडाई,
बम बम की जय कार लगाई
नागर हर हर बम बम गाऊंगा
कांधे पे उठा कर कावड जी
सावन में कावड लाऊगा

शिव भजन

Leave a Comment