lgaai ja suta bhole ji ke naam ka lgaai ja

उठाई जा उठाई जा भोले बाबा जी की कावड़ उठाई जा,
लगाई जा लगाई जा लगाई जा सुट्टा भोले जी के नाम का लगाई जा,

हरिद्वार से कावड़ लेकर जो भी पैदल आये,
शिव शंकर की भगति में वो अपना नाम लिखाये,
झुकाई जा झुकाई जा शीश भोले के चरणों में झुके जा,
उठाई जा उठाई जा भोले बाबा जी की कावड़ उठाई जा,

जगह जगह पर लगे हुए है भोले के भंडारे,
जो भी करते कावड़ सेवा भोले को वो प्यारे,
पिलाई जा पिलाई जा लौटे भर भर भांग पिलाई जा,
उठाई जा उठाई जा भोले बाबा जी की कावड़ उठाई जा,

केवल मांगे किरपा शिव की अर्जी कंठ लगाये
महादेव हरिद्वार भूलना जब भी सावन आये,
बजाई जा बजाई जा हथ कावड़िया दी जे भजाई जा,
उठाई जा उठाई जा भोले बाबा जी की कावड़ उठाई जा,

Leave a Comment