khatuvale shyam teri baat niraali tu bhi nirala shyam teri jhaanki niraali

खाटू वाले श्याम तेरी बात निराली,
तू भी निराला श्याम तेरी झांकी निराली,
नीले वाले श्याम तेरी बात निराली,
तू भी निराला श्याम तेरी झांकी निराली,

जो भी खाटू नगरी बाबा आता है,
झोली भर भर के बाबा वो ले जाता है,
फूटी किसमत को लेके दर पे तेरे आता है,
सोया हुआ भाग तेरे जग पे जग जाता है,
एहलवती के लाल तेरा कोई न सानी
तू भी निराला श्याम तेरी झांकी निराली,

मेरे घनशयं मेरे खाटू वाले हो तू ही तो बाबा रखवाले हो,
तेरी भगति का नशा शर्मा को भी छाया है,
सच तेरी कहानी बाकी मोह मया है,
तीन बाण दारी तेरी दुनिया दीवानी,
तू भी निराला श्याम तेरी झांकी निराली,

Leave a Comment