kab milhe ghanshyaam shyam mukh mod gaye saj me

कब मिलहे घनश्याम श्याम मुख मोड़ गये सज में,
सुना गोकुल धाम कुञ्ज वन छोड़ गये सच में,
कब मिलहे घनश्याम श्याम मुख मोड़ गये सज में,

हम न हुये हये मोर की पखियाँ हरि करते शृंगार,
मुकट पर सज लेते सजनी,
कब मिलहे घनश्याम श्याम मुख मोड़ गये सज में,

हम न हुये हये बांस की बंसी हरि जो रचाते रास
अधर पर धार लेते सजनी,
कब मिलहे घनश्याम श्याम मुख मोड़ गये सज में,

हम न हुये हये यमुना की मछली हरि करते इशनान,
कमल पद छू लेते सजनी,
कब मिलहे घनश्याम श्याम मुख मोड़ गये सज में,

music video bhjan song

कृष्ण भजन