जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिनु कहन्दे सारे सच्ची सरकार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार….

दिल नाल मैया जी दे दर आना पैन्दा ऐ
सिरां वाला भार ओसे वेले ही लैन्दा ऐ
सुख वरतान्दी जो बारम्बार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार….

कदे किसे नू माँ ने खाली नहियो मोड़ेया
भूलके वी किसे दा दिल नहियो तोड़ेया
सुखी रखदी जो सबदा परिवार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार….

ऐदी देया नाल कम्म सारेयां दे चलदे
ममता दी छा हेट्ठा बच्चे ने पलदे
कदे करदी ना जेड़ी इन्कार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार….

लक्खा ते करोड़ा दा बेड़ा ऐने तारेया
नीले दा वी हर कम्म माँ ने सवारेया
भरे रहन्दे जिदे सदा भण्डार,
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार…

जिन्हे लक्खा दा बेड़ा दित्ता तार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ
जिनु कहन्दे सारे सच्ची सरकार
ओ तां झण्डेवाली माई ऐ

जय जय अम्बे

दुर्गा भजन