je tu gurua da naam nahiyo japaya tenu kaun karega paar

तनु कौन करेगा पार तनु कौन करेगा पार,
जे तू गुरुआ दा नाम नहियो जपया,
तनु कौन करेगा पार तनु कौन करेगा पार,

एह धन दौलत पाप कमाई जिस ने जग न विपदा पाई,
रेहँदी न इक सार तनु कौन करेगा पार तनु कौन करेगा पार,

जन्म अंमुला कदर न जाने रूल गई ऐवे जींद निमाणी,
आन फसे मझदार तनु कौन करेगा पार तनु कौन करेगा पार,

जे तू आखे कुडम कबीला पार हों दा के वसीला,
पार हों दा एह वसीला एह पासी दे यार,
तनु कौन करेगा पार तनु कौन करेगा पार,

एह नहियो आने कम बखेड़े औखे गम ना नाल नबेड़े,
हूँ भी सोच विचार तनु कौन करे गा पार,

Leave a Comment