जे मेहरा कर देगा जोगिया की घटना दस तेरा,
मेरी जिंदगी हनेरा ए होजू सजरा सुर्ख सवेरा,
जे मेहरा कर….

तेरे भरे भंडारे में एह बड़े न्यारे ने,
तेरे नाम दी महिमा नू गांदे चन तारे ने,
तेरा द्रश करण नू ता दिल हुन तरस गया ए मेरा,

मेनू दास बना जोगिया नाले चरनी ला जोगिया,
दर आयिया संगता दी सेवा करवा जोगिया,
मेरी जिन्नद ने पाया ए वेख ले आन गममा ने घेरा,

तेरी गुफा ते आवंगी तेरा नाम ध्यवांगी,
जो लिख्या ए पिर्थी ने ओहो भेटा गंवागी,
तेरी सेवा करदी नू हुन ता हो गया टाइम बाथेरा,

Leave a Reply