जप मेरी रसना सुबहो शाम राधे राधे,
मिश्री से ज्यदा मीठा नाम राधे राधे,

हर भये संकट दूर हटा के जीवन की हर तपन मिटा के,
तपते है हिर्दय को दे आराम श्री राधे राधे
मिश्री से ज्यदा मीठा नाम राधे राधे,

जिन पर करुना बरसाती है,
श्री चरणों से लिपटाती है,बिगड़े बना दे सारे काम,श्री राधे राधे
मिश्री से ज्यदा मीठा नाम राधे राधे,

चरण कमल रज मस्तक धरलो,
सफल ये मानुष जीवन कार्लो करती श्री चरणों में परनाम,
श्री राधे राधे
मिश्री से ज्यदा मीठा नाम राधे राधे,

कलयुग में बस एक ही युक्ति,
भव बंधन से देकर मुक्ति,
दास बसा ले निज धाम श्री राधे राधे,
मिश्री से ज्यदा मीठा नाम राधे राधे,

Leave a Reply