मैं नादान मैं अनजान करो कल्याण करो कल्याण,
मेरे अंग संग रह के हमेश, जै गणेश जै गणेश, जै गणेश,

लाड़ला मैया पार्वती दा, अंत नहीं तेरी शक्ति,
तू रखदा अखां तेज़, जै गणेश………

तेरी किरपा सब ते होई, तेरे वरगा होर न कोई,
तू वसदा देश विदेश, जै गणेश………

देवी देवते देखके दंग ने, ब्रह्मा विष्णु महेश वी संग ने,
सब खड़े ने तेरे पेश, जै गणेश…..

तेरे बिन सब काज़ अधूरे, तू प्रसन्न तां सारे पूरे,
तू कुलपति जगत नरेश, जै गणेश…….

शर्मा देव दियां सुनले अरजां, हो जान पूरियां सारियां गरजां,
जिंदगी चों मूक जे कलेश, जै गणेश….

Leave a Reply