girto ko jisne sambala esa hai anjani ka lala

गिरतों को जिसने संभाला ऐसा है अंजनी लाला
पवनसुत बालाजी पवनसुत बालाजी
सच्चा है दरबार मेरे बालाजी का
मिलता है प्यार मेरे बालाजी का

कामखेड़ा में जो भी आशा लेकर आते हैं
उन भक्तों की बाबा बिगड़ी बनाते हैं
किस्मत का खोलेंगे ताला ऐसा है अंजनी लाला
पवनसुत बालाजी पवनसुत बालाजी

भूत प्रेतों से यहां पीछा छुड़ा लो रे
कैसा भी हो संकट फंद कटा लो रे
खुश कर देगा बजरंग बालाऐसा है अंजनी लाला
पवनसुत बालाजी पवनसुत बालाजी

बालाजी के नाम की तो महिमा अपार है
युग युग से यह तो करे चमत्कार है
सबसे ही है जो निराला ऐसा है अंजनी लाला
पवनसुत बालाजी पवनसुत बालाजी

बालाजी के चरणो से प्रीत लगा लो रे
अपने जन्म को सफल तुम बना लो रे
कर देगा मेहर मतवाला ऐसा है अंजनी लाला
पवनसुत बालाजी पवनसुत बालाजी

Leave a Comment