गणपति लक्ष्मी संग आएंगे जले जगमग दीप दिवाली में,
माँ शरदे को संग लाएंगे जले जगमग दीप दिवाली में,

थाली में रोली चंदन हो लक्ष्मी गणेश अभिनन्दन हो,
हम श्रद्धा सुमन चढ़ायेगे जले जगमग दीप दिवाली में,

धरु खील खिलौना मेवा में लक्ष्मी गणेश की सेवा में,
घर में पूजन करवाएंगे जले जगमग दीप दिवाली में,

दीपो से सजी दिवाली को इस रात सुनो मतवाली को,
खुशियों से आज मनाएंगे जले जगमग दीप दिवाली में,

जगदीश की लीला न्यारी बने रजो प्रेम पुजारी है,
शुभ शास्त्र सदा ही जायेगे जले जगमग दीप दिवाली में,

Leave a Reply