gal sun meri maharaniye maa tu ki ki laad ladawe

सुन मेरे दिल दी गल महरानिये,
आज तनु दिल दी मैं अपनी सुनानी ऐ,
मैं जीना खफा होवा माँ तू ओहना प्यार जतावे,
गल सुन मेरी महारानिये माँ तू की की लाड लड़ावे,

भूल चूक हो जावे कदे दिलो न भुलैण्डी माँ,
गलती भी हो जे सिहदे रस्ते न पानदी माँ,
मैं कदे भी गबरवा मेरी माँ न कदे गबरावे,
गल सुन मेरी महारानिये माँ तू की की लाड लड़ावे,

मंगाया जो तेथो मैनु ओहि मैया दिता है,
बैठ के कदे भी न हिसाब माइये लिटा है,
कर किरपा बचिया ते माइये गुण तेरे ही गावे,
गल सुन मेरीमहारानिये माँ तू की की लाड लड़ावे,

मन चाहे मन हूँ तेरी मर्जी,
रमन दे दिल दी हूँ इको अर्जी,
जदो जावा दुनिया तो माइये तुहि नजरी आवे,
गल सुन मेरी महारानिये माँ तू की की लाड लड़ावे,

Leave a Comment