dhol te nagaade vajde har sal hai machial mela lgda

चंडी माँ ने चंडी माँ ने खोलता द्वार,
भर भर झोलियाँ है वंड दी प्यार,
माँ दा पातर मचईल बड़ा जच्दा,
ढोल ते नगाड़े वजदे हर साल है मचईल मेला लगदा,

वंडदी प्यार मियां जीवन सवार दी,
चंडी मियां तक तू प्यार आ तारदी,
सोहना रूप है इलाही दिल ठग दा,
ढोल ते नगाड़े वजदे हर साल है मचईल मेला लगदा,

सोहन दे महीने जदो पेंडियां फुहारा ने,
मैया दे रावा च खिड़ जांदियाँ बहारा ने,
पैर पैर उते लंगर है लगदा,
ढोल ते नगाड़े वजदे हर साल है मचईल मेला लगदा,

सूरत प्यारी चढ़ी तक के सरूर नु,
चरना तो करि न सलीम नु तू दूर माँ,
धीरा कण कण विच तनु तकदा
ढोल ते नगाड़े वजदे हर साल है मचईल मेला लगदा,

watch music video song of bhajan

दुर्गा भजन