दर्शन करिये सब सुख पाइये,
गुरु जी दा नाम धिआइये,

प्रथम गुरु न सिमरिये गुरा न अंग संग पाइये,
चरना नाल प्रीत वदाईये,
गुरु जी दा नाम धिआइये,

अरदास मेरी सुन दातिया मेरे दिल दी जानन वालेया,
तेरी किरपा सदा ही पाइये,
गुरु जी दा नाम धिआइये,

तेरी सिफ़्ता करदे रहिये तेरे गुण सदा ही गाइये,
एहना नैना विच तनु वसाइये,
गुरु जी दा नाम धिआइये,

संगत दी सुंदे पुकार झोलियाँ भर दे भारम भार एह,
दर्शन करिये सब सुख पाइये,
गुरु जी दा नाम धिआइये,

Leave a Reply