bhole ke dhaam jaayege hum bhi bhangiyan chadaayege

भांग धतूरा छाने बैठे मस्ती में है जम के,
लम्बे लम्बे मार रहे कश भोले नाथ चिलम के,
जगह जगह गूंज रहे जैकारे बम बम के,
जिनके दर पे छट जाते है सरे बादल गम के,
भोले के धाम जायेगे हम भी बंगियां चढ़ाये गे

जाना है उज्जैन नगरियां महाकाल बाबा की दुवारियाँ,
करुणा की छलकाए गगरियाँ रेहमत वाली जिनकी नजरीयां,
मदिरा उनको पिलाये गे भोले के धाम जायेगे,
भोले के धाम जायेगे हम भी बंगियां चढ़ाये गे

भक्त भी खा के भांग के गोले झूम रहे है होले होले,
भक्ति की मस्ती में डोले बोल रहे है बम बम भोले,
नाचेंगे सब को नचायगे भोले के धाम जायेगे,
भोले के धाम जायेगे हम भी बंगियां चढ़ाये गे

शिव की भगति के लिए सावन करलो शिव का पूजन वंदन,
पावन हो जाएगा जीवन सब से कहे प्रकाश निरंजन,
बाबा की महिमा गाये गे भोले के धाम जाएगे ,
भोले के धाम जायेगे हम भी बंगियां चढ़ाये गे

Leave a Comment