भैरु जी को नखरों न्यारो है बाला जी को नखरों न्यारो है…

भैरू जी तो पहरे कांचलिया ॥
बाला जी तो लाल लंगोट , नखरों न्यारो है..

भैरू जी तो खावे गेंहू चना ॥
बाला जी तो खावे रोठ, नखरों
न्यारो है..

भैरू जी तो मेठे डाकणिया॥
बाला जी तो मेठे ख़ोट, नखरों न्यारो है..

भैरू जी तो मारे साँकलिया ॥
बाला जी मारे सोठ, नखरों न्यारो है..

भैरू जी तो देवे भभुति॥
बाला जी तो देवे नोट, नखरों न्यारो है…

भैरू जी को नखरों न्यारो है बाला जी को नखरों न्यारो है…