बजरंग बलि है सब से प्यारे राम के दुलारे
मैं दिन रात सुमिरन करू,

प्रभु की माया प्रभु ही जाने अंजनी के सूत राम दुलारे,
बजरंग बलि है सब से प्यारे अंजनी के दुलारे
मैं दिन रात सुमिरन करू,

सिंध मनोरथ पुरण काजे,केसरी नंदन राम के प्यारे,
बजरंग बलि है सब से प्यारे सीता के दुलारे
मैं दिन रात सुमिरन करू,

हनुमान भजन