आए ने माएँ तेरे लाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आई पवन वाली चाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल…….

चांदी दी कोली विच ज्योत जगावा,
हो जा मात दयाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल……….

हथ करेबी विच जलेबी,
फुला दा भरेया ऐ थाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल…….

पान सुपारी ध्वजा नारियल,
भेटा लयाए आ नाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल…….

केसर दा माये तिलक लगावा,
तक तक होवा निहाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल

चंदन चोंकी ते आन विराजो,
पूछो निमानिया दा हाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल……….

संगता आइयाँ चढ़ के च्दाइया,
पुरे करो सवाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल……….

आ मैयां रल खेडिये होली,
रंग है लाल गुलाल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल………

एह विनती दर्शी बचियाँ दी मियाँ,
आये है दिन हर साल खोल बूहे मंदिरा दे,
आए ने माएँ तेरे लाल……….

दुर्गा भजन

Leave a Reply