आरती बाल कृष्ण की कीजै,
अपनो जन्म सफल कर लीजै,

श्री यशोदा को परम दुलारो,
बाबा की अखियन को तारों,
गोपिन के प्राणन सों प्यारो,
इन पर प्राण न्योछावर कीजै,
आरती बालकृष्ण की कीजै,

बलदाऊ को छोटो भैया,
कलुआ कलुआ बोले या की मैया,
प्रेम मुदित मन लेत बलैयां,
यह छवि नैनन में भर लीजै,
आरती बालकृष्ण की कीजै,

तोतली बोली मधुर सुहावे,
सखा संग खेलत सुख पावे,
सोई सूक्ति जो इनको ध्यावे,
अब इनको अपना कर लीजै,
आरती बालकृष्ण की कीजै,

श्री राधा वर सुघड़ कन्हैया,
ब्रज जन को नवनीत खिवैया,
देखते ही मन लेत चुरैया,
अपना सर्वस्व इनको दीजे,
आरती बालकृष्ण की कीजै,

Leave a Reply