aao aa jaao bhole nath tere khyalo me khoya rahu main jaagu din or raat

आओ आ जाओ भोले नाथ,
तेरे ख्यालो में खोया रहु मैं जागु दिन और रात,

हे शिव शंकर हे प्रेयन्कर हे जग के रखवाले,
तेरे बिना मेरी कौन सुनागा,
दरदे दिल की बात,
आओ आ जाओ भोले नाथ,

मन पंक्षी बे चैन दर्श बिन अब तो दर्श दिखावो,
अँखियाँ ऐसे बरस रही है सावन की बरसात,
आओ आ जाओ भोले नाथ,

विष पी ये खुद अमृत बांटे ,
तुम सा न कोई दानी,
रामा देया की विक्शा मांगे रखदो सिर पे हाथ,
आओ आ जाओ भोले नाथ,

Leave a Comment